True Lover Shayari In Hindi Awesome2017

⧬⧬⧬बदन से हो के गुज़रा, रूह से रिश्ता बना डाला; किसी की प्यास ने आखिर मुझे दरिया बना डाला⧬⧬
1


⧬⧬उसे सोचूँ, उसे ढूँढू, उसे लिक्खुँ मुक़द्दर में; फ़क़त इसके लिए उसने मुझे तन्हा बना डाला⧬⧬
2


⧬⧬मैं आँखें खोल दुंगा तो जुदा हो जाएगा मुझसे; यही इक ख़ौफ़ था जिसने मुझे अंधा बना डाला, .
3


⧬⧬तेरी आँखों में मैंने अश्क़ अपने क्या रखे; तूने समंदर को ज़रा सी देर में क़तरा बना डाला, .
4


⧬⧬कभी बादल, कभी बारिश, कभी उम्मीद के झरने; तेरे अहसास ने छू कर मुझे क्या-क्या बना डाला, .
5

⧬⧬तेरी मौजूदगी ने ज़ख़्म पर जब उंगलियाँ रक्खीं; तो मैंने दर्द अपना और भी गहरा बना डाला, .
6


⧬⧬⧬ख़यालों में तेरे हाज़ी हुए हम एक दिन यूँ भी; मदीना दिल को, अपनी रूह को काबा बना डाला.

No comments :