Teri yaad shayari girlfriend Awesome2017


  • जमाना कितना संग दिल हे ,ये हम जानते हे
  •  कहते हे सितम किसको ये हम जानते हे
  •  फिर तेरी याद आई हे मुझ को सताने के लिए
  • क्या होता हे दर्द गम, सनम हम जानते हे 


  • हमने अब मरने की रसम छोड दी
  • तुमने भी बात निभाने की चलन छोड़ दिया
  • आज फिर याद आई हे तुमहारी
  • सनम हमने अपनोँ को बुलाने की कसम तोड दी 


  • चांद सितारोँ को भी हमसे शिकायत रहती हे
  • इन बहारो को भी हमसे शिकायत रहती हे
  • हम तेरी यादोँ को ही सबसे खूबसूरत कहते हे
  • इसलिए इन नजरो को भी हमसे शिकायत रहती हे 


  • हमने खुद ही अपने रास्ते को मोड़ लिया
  • केसे सहते हम जाना तेरी रुसवाई
  • अकेले मेँ बेठ कर हम आसू बहा रहे थे कि
  • दिल को समझाने के लिए फिर तेरी याद आई 


  • केसे भुलेगा मुझे वो tumhara मुस्कुराना
  • बात ही बात मेँ सनम tumhara रुठ जाना
  • दिल के हर कोने मेँ अब भी नजर आती हे मुझे
  • फिर तेरी याद आई देख हो गया खुद से बेगाना 


  • ठंडी पवन के झोंके दिल मेँ आग लगा रहें हे
  • सुनो ये भोरे तुमहारी याद मेँ गुनगुना रहे हे
  • लोगोँ ने मुझे यु तो दीवाना नाम दिया हे
  • फिर तेरी याद आई हे ओर हम दुनिया छोड़ के जा रहे हैं 


  • तुम तो हमेँ अकेला छोड़ कर चले गए
  • जानेजा तुम तो मुह मोड़कर चले गए
  • यु तो बहुत उदासियों में जी रहे थे हम
  • तेरी याद चली आई ओर हम खुश हो गए 


  • शाम थी तंहा तंहा रात थी उदास
  • आसू धीरे धीरे बहकर आगए होठो के पास
  • कितनी मुश्किल मेँ था मेँ केसे बताऊँ तुमको
  • फिर याद आई फेरी और दिल नासद हो गया 


  • हम तो चलते रहे इश्क की राहो पे
  • तुम से ही दोस्ती निभाई भी न गई
  • तेरी यादो ने बहुत कुछ बताया हम को
  • हमसे तुम्हे वो कहानी सुनाई न गई 


  • अपनी आंखोँ मेँ बसा रखा हे
  • तुमको इस दिल मेँ छुपा रखा हे
  • फिर आ गई हे याद तुमहारी
  • हमने इनको अपनी ग़ज़लो मेँ सजा रखा हे। 


  • आज फिर से तेरी याद आने लगी हे
  • रह रह के मुझ को सताने लगी हे
  • जरा देर ठहरो चले जाना तुम
  • अब देखो मेरी जान जाने लगी हे 


  • एक वो बाहो मे आके मेरे तेरा मचलना
  • वो बलखाके तेरा गिरना ओर संभलना
  • फिर याद आई हे मुझको तेरी सनम
  • वो पल पल मेँ तेरा तेवर बदलना 


  • बीत गई हे रात सुहानी चंदा भी अब सो गया
  • चलते चलते प्यार के रास्ते पर दिल कही खो गया
  • ये दुनिया केसे समझेगी केसे बनता दिल का अफसाना
  • फिर याद आई तेरी यह दिल दीवाना हो गया 


  • ये मोसम बदलता हे तो बदलते रहे
  • बर्फ बन कर ये दिल भी पिघलता रहे
  • फिर याद आई हे तेरी सनम
  • प्यार का सिलसिला यूँ ही चलता रहे 


  • तेरे प्यार की तमन्ना लिए जा रहा हूँ मे
  • देख ले मुझको मेरे महबूब अब भी मुस्कुरा रहा हूँ मेँ
  • तू मिले न मिले मुझे अब इस बात का गम नहीँ
  • बस तेरी यादो के सहारे ही जिए जा रहा हूँ मेँ 


  • ये चांद सितारे मायूस हे सूरज ने चमकना छोड दिया
  • जबसे तुमने प्यार की राहो से अपना रिश्ता तोड दिया
  • तेरी मेरी प्यार की बगिया को ना जाने किसकी नजर लगी
  • फिर याद तुमहारी आई दिल ने गम से रिश्ता जोड लिया 


  • वो सावन के दिन की घटाएँ सुहानी
  • वो कागज की कश्ती वो बारिश का पानी
  • फिर आज आई तेरी याद
  • मुझको वो चाँद सा मुखडा वो कातिल जवानी 


  • आज मेरे लिए आसमान से कोई पयाम आ रहा हे
  • किसी के शोख लब से मेरे लिए सलाम आरहा हे
  • न जाने क्यूँ ये चांद सितारे मुझे फीके लग रहे हे
  • आज तंहाई मेँ सनम मुझको फिर याद आ रहा हे 


  • ⧬अपने माथे पर सजा कर लाल बिंदिया⧬
  • तुमने उड़ा दी सनम मेरी निंदिया
  • आज फिर तेरी याद आई हे दोस्त
  • ⧬तुमने तो मुझे याद करना भी छोड दिया⧬ 


  • ⧪ये दर्द का उभरना ये आलम ए तंहाई⧪
  • ये टूटना मेरे हसीन ख्वाब का वो तेरी बेवफाई
  •  दिल मेँ एक हुक सी उठी हे ए दोस्त
  • ⧪आज इस दिल को फिर तेरी याद आई⧪ 
  • ~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
  • तेरी यादों के बिना ज़िंदगी अधूरी है" ."तू जो मिल जाए तो ज़िंदगी पूरी है..!! तेरे साथ जुड़ी हैं मेरी खुशियाँ" बाकी सबके साथ हसना तो मेरी मजबूरी है...! 


  • ~~क्यू तेरी खामोशी मुझे खामोश कर जाती है~~~क्यू तेरी उदासी मुझे उदास कर जाती है~~~क्या रिश्ता है तेरा ओर मेरा जब भी तेरी याद आती हैं मुझे तन्हा कर जाती ह~~ 


  • ~~प्यार मे अश्क बहते क्यू हैं दो दिल एक दूसरे को तड़पते क्यूँ हैं कहते हैं प्यार ज़िंदगी है, तो फिर प्यार को खेल बनाते क्यूँ हैं~~~


  • ~~कभी कभी ज़िंदगी में ये तय करना मुश्किल हो जाता हैं की ग़लत क्या है? वो झूठ जो चेहरे पे मुस्कान लाए~~या वो सच जो आँखो मे आँसू लाए~~


  • ~~वो कहने लगी नक़ाब मे भी पहचान लेते हो हज़ारों के बीच मे. मेने मुस्कुरा के कहा.., तेरी आँखों से तो शुरू हुआ था इश्क़, हज़ारों के बीच में~~~


  • ~~गहरी थी रात, लकिन हम खोए नही, दर्द बहूत था दिल में, लकिन हम रोए नही, कोई नही हमारा जो पूछे हमसे, जाग रहे हो किसी के लिए, या किसी के लिए सोए ही नही~~~


  • ~~~उस को मेरे वादों पर ऐतबार था दिल में उस के भी बहुत प्यार था छोर दिया उस ने बीच सफ़र में मेरा हाथ शायद किनारे पे उसे किसी और का इंतेज़ार था~~~~~~~~~~

No comments :