Sad Status for Whatsapp in Hindi 2017


  • ना जाने कैसी नज़र लगी है ज़माने की, वजह ही नही मिल रही मुस्कुराने की….!
  • दुआ‬ कौन सी थी ‎हमे‬ याद नही बस इतना याद है, दो ‎हथेलियाँ‬ जुड़ी थी एक ‎तेरी‬ थी ‎एक‬ मेरी थी..
  • दर्द सहने की अब कुछ यूँ आदत सी हो गयी है कि अब दर्द न मिले तो दर्द सा होता है।
  • अब तो शायद ही कोई मुझसे प्यार करे … मेरी आँखों में साफ़ नज़र आने लगी हो तुम।
  • बारिश और मोहब्बत दोनों ही यादगार होती है फर्क बस इतना है कि एक मे जिस्म भीग जाता है और दूसरी मे आखें…..
  • दुःख भोगने वाला तो आगे सुखी हो सकता है लेकिन दुःख देने वाला कभी सुखी नहीं हो सकता।
  • कोई नही आऐगा मेरी जिदंगी मे तुम्हारे सिवा,एक मौत ही है जिसका मैं वादा नही करता…….. ।।
  • वो अपनी तन्हाई की खातिर फिर आ मिला मुझसे, हम नादान ये समझे हमारी दुआओं में असर है।
  • कोई भी दीवारें मुझे तुमसे मिलने से ना रोक पाती,अगर तू मेरे साथ होती तो
  • हर यार – यार नहीं होता.. हर यार वफादार नहीं होता.. दिल आने कि बात है.. नही तो सात फेरो के बाद भी प्यार नही होता
  • हमने माँगा था साथ जिसका वो उम्र भर की जुदाई का ग़म दे गया…हम जी लेते यादों के सहारे उसकी पर जाते-जाते ज़ालिम भूल जाने की क़सम दे गया !!
  • गलती इतनी हुई की जान से ज्यादा तुझे चाहने लगे हम । क्या पता था की मेरी इतनी परवाह तुझे लापरवाह कर देगी।
  • तुम ही वजह मेरे खालीपन की.. और.. तुम्ही गूंजते हो मुझमें हरदम !
  • हम तो नादान हैं क्या समझेंगे उसूल-ए-मोहब्बत !! बस तुझे चाहा था, तुझे चाहा है और तुझे ही चाहेंगे !!
  • वो अक्सर मुझसे पूछा करती थी, तुम मुझे कभी छोड़ कर तो नहीं जाओगे, काश मैंने भी पूछ लिया होता..
  • वो ना ही मिलते तो अच्छा था… बेकार में मोहब्बत से नफ़रत हो गई…
  • दर्द हैं दिल मैं पर इसका ऐहसास नहीं होता… रोता हैं दिल जब वो पास नहीं होता… बरबाद हो गए हम उनकी मोहब्बत मैं… और वो कहते हैं कि इस तरह प्यार नहीं होता…
  • उसकी एक प्यार भरी मुस्कान देकने के लिए..जब जब उसके शहर क्या चला जाता हूँ…कसम से में महीनो तक सो नही पता हूँ..
  • ज़िन्दगी में ज़िन्दगी से हर चीज़ मिली…. मगर उनके बाद ज़िन्दगी न मिली॥
  • तेरा नाम था आज किसी अजनबी की जुबान पे… बात तो जरा सी थी पर दिल ने बुरा मान लिया…
  • ये दिल भी कितना पागल है…हमेशा उसी की फिकर मे डुबा रहता है जो इसका होता ही नही है… :-(
  • कितना कुछ जानता होगा वो शख्स मेरे बारे में, मेरे मुस्कुराने पर भी जिसने पूछ लिया की तुम उदास क्यों हो..
  • कभी फुर्सत मिले तो सोचना जरूर, एक लापरवाह लड़का क्यों तेरी परवाह करता था…!!!
  • मेरी यादों की कश्ती उस समुन्दर में तैरती है, जहाँ पानी सिर्फ और सिर्फ मेरी पलकों का होता है..!
  • तक़दीर ने जैसे चाहा वैसे ढल गए हम.. बहुत संभल के चले फिर भी फिसल गए हम.. किसी ने विश्वास तोडा तो कभी किसी ने दिल और लोगो को लगता है की बदल गए हम..
  • तुम्हारे हुसन कि तारीफ़ करने वाले और भी है लकिन हम तारीफ़ नहीं तुम्से प्यार करते थे बस तुम ही समझ न पाई
  • काश ये दिल बेजान होता ,ना किसी के आने से धडकता ना किसी के जाने पर तडपता
  • जाता हुआ मौसम लौटकर आया है..काश वो भी कोशिश करके देखे…!!
  • तेरे बाद हमने दिल का दरवाजा खोला ही नही.. वरना बहुत से चाँद आए इस घर को सजाने के लिए
  • मुझें छोड़कर वो खुश हैं, तो शिकायत कैसी.. अब मैं उन्हें खुश भी न देखूं तो मोहब्बत कैसी..
  • काश तेरी याद़ों का खज़ाना बेच पाते हम.. हमारी भी गिनती आज अमीरों में होती ।
  • अब शिकायतेँ तुम से नहीँ खुद से है.. माना के सारे झूठ तेरे थे.. लेकिन उन पर यकिन तो मेरा था!!
  • रंग तेरी यादो का ना उतरा अब तक.. लाख बार खुद को आँसुओ से धोया हमने..
  • बदल जाऊँगा मैं भी इक दिन पूरी तरह,तुम्हारे लिये न सही…तुम्हारी वजह से यकीनन!!!
  • आ गया फरक उसकी नजरोँ में यकीनन…..!!अब वो हमें ‘खास अदांज’ से ‘नजर अदांज’ करती हैं……!!
  • ये तेरा वहम है के हम तुम्हे ‪भूल‬ जायेगे..वो ‪शहर‬ तेरा होगा, जहाँ बेवफा लोग बसा करते है..
  • बेशक खूबसूरत तो वो आज भी है,लेकिन चेहरे पर वो मुस्कान नहीं,जो हम लाया करते थे…!
  • भूल जाने का मशवरा और जिँदगी बनाने की सलाह,ये कुछ तोहफे मिले थे, उनसे आखिरी मुलाकात मेँ….!!
  • काश !! OLX पे उदासी और अकेलापन भी बेचा जा सकता
  • चलते रहेंगे क़ाफ़िले मेरे बग़ैर भी यहाँ.एक तारा टूट जाने से, फ़लक़ सूना नहीं होता
  • इश्क हमें जीना सिखा देता है, वफा के नाम पर मरना सिखा देता है…इश्क नहीं किया तो करके देखो, जालिम हर दर्द सहना सिखा देता है
  • उसने कहा भूल जाओ मुझे , हमने कह दिया , कौन हो तुम ?
  • याद आयेगी हमारी तो बीते कल की किताब पलट लेना यूँ ही किसी पन्ने पर मुस्कुराते हुए हम मिल जायेंगे।
  • आँसू आ जाते हैं आँखों में पर लबों पर हंसी लानी पड़ती है ये मोहब्बत भी क्या चीज़ है यारो जिस से करते हैं उसी से छुपानी पड़ती है।
  • रोज तेरा इंतजार होता है रोज ये दिल बेक़रार होता है काश के तुम समझ सकते के चुप रहने वालों को भी प्यार होता है
  • क़ाश कोई ऐसा हो, जो गले लगा कर कहे…!! तेरे दर्द से मुझे भी तकलीफ होती है

No comments :