Sad Shayari in Hindi for Love SMS 2017

Kisi Kee Yaad Dil Mein Aaj Bhi Hain,
Bhool Gaye Wo Magar Pyaar Aaj Bhi Hain,
Hm Khush Rehne Ka Dawa To Krte H Magar
Unki Yaad Mein Behte Aansu Aaj Bhi Hain !
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

Sirf Najdikiyo Se Mohabbat Hua Nahi Karti,
Fasle Jo Dilon Me Ho To Fir Chahat Hua Nhi Karti
Agar Naraz Ho Khafa Ho To Shikayat Karo Hamse
Khamosh Rahne Se Dilo Ki Duriya Mita Nhi Karti.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~


Woh Kya Jane Pyar Ki Keemat Kya Hoti Hai,
Jab Nhi Milta Pyar To Aankhe Kitna Roti Hain,
Kbhi Na Kbhi To Wo Bhi Kisi Se Dil Lagayegi,
Karegi Vo Bewafai To Meri Wafa Ki Yaad Ayegi.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

Katil Gunah Karke Zamane Main Reh Gaye,
Ek Hum The Ke Ashq Bahane Main Reh Gaye.
Patharon Ka Jawab To Hum Bhi De Sakte The,
Lekin Hum Dil Ke Aiane Ko Bachne Main Reh Gaye.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

Zindgi Ka Har Zakham Uski Mehrbani Hai;
Meri Zindgi To Ek Adhuri Kahani Hai;
Mita Deta Har Dard Ko Magar;
Ye Dard Hi To Uski Aakhri Nishani Hain.
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

Sabhi Ko Sab Kuchh Nahi Milta,
Nadi Ki Har Lehar Ko Sahil Nahi Milta,
Yeh Dil Walo Ki Duniya Hain Dost,
Kisi Se Dil Nhi Milta To Koi Dil Se Nhi Milta.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

किसी के दिल पे क्या गुजरी हे वो अनजान क्या जाने,
प्यार किसको कहते हे वो नादान क्या जाने,
हवा के साथ उठा ले गया घर का परिंदा,
केसे बना था ये घोसला वो तूफान क्या जाने.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

कितनी अजीब बात है ना जब तू मेरे पास थी तो,
हर दम ये सोचता था की क्या में तेरी कदर नहीं करता
और आज तू मेरे पास नहीं है तो है तो ये एहसास होता है की,
कदर तो हमेशा से थी मगर तुजे न खोने के यकीन ने अँधा कर दिया था.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
दुश्मन भी मेरे मुरीद हैं शायद
वक़्त बेवक्त मेरा नाम लिया करते हैं
मेरी गली से गुज़रते हैं छुपा के खंजर
रु-ब-रु होने पर सलाम किया करते हैं.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

एक पल भी सोती नहीं है आँखे, चले आईये
आँसुओं के संग गुजरती है राते, चले आईये
इन्तजार के मोती रोज लुटाती है आँखे
बड़ा सताती है तुम्हारी बाते, चले आईये.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

भीड़ भाड़ को छोड़ आए हैं बस तन्हाई भाई है.
वहां बहुत बेचैनी भोगी यहां खुमारी छाई है.
वो सवाल अब यहां नहीं हैं जिनके उत्तर मुश्किल थे.
जितनी हमने इच्छा की थी उतनी राहत पाई है.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

दिल जब टूटता है तो आवाज नहीं आती!
हर किसी को मुहब्बत रास नहीं आती!
ये तो अपने-अपने नसीब की बात है!
कोई भूलता नहीं और किसी को याद भी नहीं आती!
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
जख्म तुम देते रहे, हम दवा करते रहे
आह हम भरते रहे, तुम सितम करते रहे
मेरा दावा है की, दीवाना रहेगा बन के
उसकी आँखों से अगर आँख मिला दे कोई.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~


ठोकर ना लगा मुझे पत्थर नही हूँ मैं,
हैरत से ना देख कोई मंज़र नही हूँ मैं,
उनकी नज़र में मेरी कदर कुछ भी नही,
मगर उनसे पूछो जिन्हें हासिल नही हूँ मैं.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

मज़बूरी में जब कोई जुदा होता है,
ज़रूरी नहीं कि वो बेवफ़ा होता है,
देकर वो आपकी आँखों में आँसू,
अकेले में वो आपसे ज्यादा रोता है.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

एक अजीब सा मंजर नज़र आता है,
हर एक आँसूं समंदर नज़र आता हैं,
कहाँ रखूं मैं शीशे सा दिल अपना,
हर किसी के हाथ मैं पत्थर नज़र आता हैं.
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

मुझे को अब तुझ से भी मोहब्बत नहीं रही,
आई ज़िंदगी तेरी भी मुझे ज़रूरत नहीं रही,
बुझ गये अब उस के इंतेज़ार के वो जलते दिए,
कहीं भी आस-पास उस की आहट नहीं रही.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

तेरी आरज़ू मेरा ख्वाब है,
जिसका रास्ता बहुत खराब है,
मेरे ज़ख्म का अंदाज़ा न लगा,
दिल का हर पन्ना दर्द की किताब है.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
छोड़ दिया यारो किस्मत की
लकीरों पर यकीन करना,
जब लोग बदल सकते हैं
तो किस्मत क्या चीज.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

इंसानों के कंधे पर इंसान जा रहे हैं,
कफ़न में लिपट कर कुछ अरमान जा रहे हैं,
जिन्हें मिली मोहब्बत में बेवफ़ाई,
वफ़ा की तलाश में वो कब्रिस्तान जा रहे हैं.
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~


उल्फत का यह दस्तूर होता है,
जिसे चाहो वही हमसे दूर होता है,
दिल टूट कर बिखरता है इस क़द्र जैसे,
कांच का खिलौना गिरके चूर-चूर होता है!
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

कलम उठाई है, लफ्ज नही मिलता,
जिसे ढूँढ रहा हूँ वो शक्स नही मिलता,
फिरते हो तुम जमाने की तलाश में,
बस हमारे लिए तुम्हें वक्त नही मिलता.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

मुझको ऐसा दर्द मिला जिसकी दवा नहीं,
फिर भी खुश हूँ मुझे उस से कोई गिला नहीं,
और कितने आंसू बहाऊँ उस के लिए,
जिसको खुदा ने मेरे नसीब में लिखा ही नहीं.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

माना की मोहोब्बत के किस्से मशहूर होते है,
मगर दुनिया के भी कुछ अपने दस्तूर होते है,
दुनिया कायम है इसलिए की वो है पत्थर की,
जबकि शीशे कें दिल ही चकना चूर होते है.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

⬊⬊सब कुछ मिला सुकून की दौलत न मिली,
एक तुझको भूल जाने की मोहलत न मिली,
करने को बहुत काम थे अपने लिए मगर,
हमको तेरे ख्याल से कभी फुर्सत न मिली⬋⬋
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

⬈⬈हमें कोई ग़म नहीं था ग़म-ए-आशिक़ी से पहले,
न थी दुश्मनी किसी से तेरी दोस्ती से पहले,
है ये मेरी बदनसीबी तेरा क्या कुसूर इसमें,
तेरे ग़म ने मार डाला मुझे ज़िन्दग़ी से पहले⬋⬋

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

तू नहीं तो ये नज़ारा भी बुरा लगता है..
चाँद के पास सितारा भी बुरा लगता है..
ला के जिस रोज़ से छोड़ा है तुने भवँर में मुझको..
मुझको दरिया का किनारा भी बुरा लगता है.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

⬉⬉इस दिल को किसी की आहट की आस रहती है,
निगाह को किसी सूरत की प्यास रहती है,
तेरे बिना जिन्दगी में कोई कमी तो नही,
फिर भी तेरे बिना जिन्दगी उदास रहती है॥

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

⬉⬉Asmaan Bhi Baras Raha Hai,
Mere Ashko Se Takra Raha Hai,
Kisme Hai Jor Jyada Shayad Yeh Dekh Raha Hai,
Barsaat To Phir Bhi Ruk Jayegi,
Mere Ashko Ka Koi Anth Nahi,
Dil Me Hai Dard Itne Jiska Koi Hisaab Nahi.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

Badi Udas Hai Zindgi Tere Bin,
Nahi H Kuch Mere Paas Tere Bin,
Andhera Ho Ya Ho Ujala,
Aata Nahi Kuch B Raas Tere Bin.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

⬋⬋Bohat Udaas Hai Koi Shakhs Tere Jaane Se
Ho Sake To Laut Aa Kisi Bahaane Se
Tu Laakh Khafa Sahi Magr Ik Baar To Dekh
Koi Toot Gaya Hai Tere Door Jaane Se⬋⬋⬋

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

⬋⬋Aaj Kuchh Kami Hai Tere Bager
Na Rang Hai Na Roshni Hai Tere Bager
Waqt Apni Raftar Se Chal Raha Hai
Bas Dhadkan Thami Hai Tere Bager⬋⬋

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

⬋⬋Roj Tha Uska Naam Mere Afsane Mein,
Thi Uski Tasveer Mere Dil Ke Aashiyane Mein,
Mangi Thi Khuda Se Dua Jiski Khushi Ke Liye,
Use Khushi Bhi Milti Thi To Mujhe Rulane Mein.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

⬋⬋Ya Khuda Maaf Karna Tere Is Gunehgaar Bande Ko,
Jo Tumhari Chamatkaar Me Dakhil Hota Hai,
Sirf Ye Poochne Ke Liye Aaya Hu Mein,
Ke Kyun Har Raat Tanhai Mein Mera Dil Rota Ha.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

⬋⬋Jivan Ka Har Panna Rangin Nahi Hota,
Har Rone Wala To Gamgin Nahi Hota,
Ek Hi Dil Ko Koi Kab Tak Todega,
Ab To Koi Jaalta Bhi He To Yakin Nahi Hota⬋⬋
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

⧬⧬Har Zakhm Kisi Thokar Ki Meharbani Hai,
Meri Jindgi Bus Ak Kahani Hai,
Mita Dete Sanam K Dard Ko Sine Se,
Par Ye Dard Hi Uski Akhri Nishani Hai⧭⧭⧭

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

⬋⬋Zindagi Hamaari Yun Hi Sitam Ho Gayi
Khushi Na Jaane Kahan Dafan Ho Gayi
Likha Khuda Ne Mohabbat Sabki Taqdeer Mein
Hamaari Baari Aayi To Syaahi Hi Khatm Ho Gayi.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

⬋⬋Dil Mein Har Raaz Daba Ke Rakhte Hai,
Honthon Pe Muskurahat Saja Ke Rakhte Hai,
Yeh Duniya Sirf Khushi Mein Saath Deti Hai,
Isliye Hum Apne Aansuon Ko Chhupa Ke Rakhte Hai.
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~


Dil Lagana Chod Diya Humne,
Aanso Bahana Chod Diya Humne,
Bahut Kha Chuke Dhokhe Pyar Me,
Muskurana Isliye Chod Diya Humne.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
Naseeb Mera Q Mujse Khafa Ho Jata H,
Apna Jisko B Mano Bewafa Ho Jata H,
Q Na Ho Shikayat Meri Nazro Ko Raat Se,
Sapna Pura Hota Nhi Or Sawera Ho Jata H.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
Ek Pal Mein Jo Aa Kar Gujar Jaaye
Yeh Hawa Ka Woh Jhoka Hai ..Aur Kuch Nahi
Pyar Kehti Hai Duniya Jise,
Ek Rangeen Dhokha Hai .. Aur Kuch Nahi.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
Kasoor Unka Nahi Jo Dhokha Dia Unhone,
Aadat To Hame Hi H Dhokhe Khane Ki.
Tutega Dil Ek Din, Jante The Hum.
Fir Bhi Bhul Ki Unko Chahne Ki.

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
⧭Jinki Aankhe Aansuo Se Nam Nahi⧬⧬⧬
Kya Samjhte Ho Use Koi Gum Nahi⧬⧬⧬
Tum Tadap Kar Ro Diye To Kya Hua,
Gum Chhupa Ke Hansane Waale Bhi Kam Nahi.

No comments :