Hindi Shayari Secretly Love Someone shayari2017

⇍आहिस्ता बोलने का तेरा अंदाज़ बहुत कमाल है,
कान सुनते कुछ नही लेकिन दिल सब समझ जाता है!

⇎उमर कितनी मंज़िलें तय कर चुकी थी मगर,
दिल एक बार तेरे दिल से टकराया तो ठहरा ही रह गया!

⇍नाम तेरा ऐसे लिख चुका हूँ अपने वजूद पर,
की हम-नाम कोई तेरा मिल जाए तो भी दिल धड़क जाता है!
 
⇎इतनी तहज़ीब से पेश आना आदत है तुम्हारी,
या, मुझे क़त्ल करने की साज़िश है तुम्हारी!
 
⇅कितने मज़बूर हैं हम इस इश्क़ के हाथों,
⇆ना तुझे पाने की औकात, ना तुझे खोने का हौंसला!





उस के साथ रहते-रहते, उस की चाहत सी हो गयी है;
उ⇬स से बात करते करते, उसकी आदत सी हो गयी है;
एक पल ना मिले तो बेचेनी सी लगती है,
⇴दोस्ती निभाते-निभाते, उस से मोहब्बत सी हो गयी है!
 
दिल में हमने तुम्हारे प्यार की दास्तान लिखी है,
ना थोड़ी ना तमाम लिखी है,
कभी हुमारे लिए भी दुआ कर लिया करो सनम,
हमने तो हर एक साँस तुम्हारे नाम लिखी है!
 
गले मिला है वो मस्त-ए-शबाब बरसों में,
हुआ है दिल को सुरूर-ए-शराब बरसों में,
निगाह-ए-मस्त से उस की हुआ यह हाल मेरा,
की जैसे पी हो किसी ने शराब बरसों में!
~ दाघ दहलवी

कोई पूछ रहा है मुझसे मेरी ज़िंदगी की कीमत,
मुझे याद आ रहा है तेरा हल्के से मुस्कुराना!

तेरे पास में बैठना भी इबादत, तुझे दूर से देखना भी इबादत;
ना माला ना मंतर, ना पूजा ना सजदा, तुझे हर घड़ी सोचना भी इबादत!

No comments :