Tuesday, 6 December 2016

Good Morning Shayari Suraj nikalne ka waqt 2017


  • सूरज निकलने का वक़्त हो गया,
  • फूल खिलने का वक़्त हो गया,
  • मीठी नींद से जागो मेरे दोस्त,
  • सपने हक़ीकत में लाने का वक़्त हो गया

No comments :